StringTokenizer क्लास (StringsTokenizer Class)

इसका प्रयोग किसी स्ट्रिंग को यूज़र की आवश्यकता के आनुसार विभिन्न भागों में विभाजित करने के लिए किया जाता है। दूसरे शब्दों में हम यह कह सकते हैं कि इस क्लास का प्रयोग करते हम किसी स्ट्रिंग को टोकन्स में विभाजित कर सकते हैं। यह क्लास java.util पैकेज में होती है। इस क्लास की सहायता से स्ट्रिंग को टोकन्स में विभाजित करने के लिए इसके 2 कंस्ट्रक्टर्स का प्रयोग किया जा सकता है। इनका प्रारूप निम्नानुसार हैः

public StringTokenizer(String str):
उपरोक्त कंस्ट्रक्टर्स में पास किया गया स्ट्रिंग, कुछ delimiters जैसे \t, \n, \r, स्पेस आदि के आ जाने पर टोकन्स में विभाजित हो जाता है। इसमें डिफाॅल्ट टोकन स्पेस होता है।

public StringTokenizer(String str, String delimiter):
इस कंस्ट्रक्टर में दो आरग्यूमेंट पास किए जाते हैं। पहला आरग्यूमेंट वह स्ट्रिंग होता है जिसे टोकन में विभाजित करना है, तथा दूसरे आरग्यूमेंट में उन कैरेक्टर्स की लिस्ट दी जाती है, जिनके स्ट्रिंग में आने पर स्ट्रिंग को टोकन में विभाजित किया जाएगा।

उपरोक्त कंस्ट्रक्टर्स के अतिरिक्त प्रयोग में आने वाले प्रमुख मैथड निम्नानुसार हैः

nextToken()
यह मैथड अगले टोकन को स्ट्रिंग के रूप में रिटर्न करता है।

hasMoreTokens()
यदि स्ट्रिंग मे टोकन शेष है तो यह मैथड true रिटर्न करता है, अन्यथा false रिटर्न करता है।

countToken()
यह मैथड स्ट्रिंग में शेष टोकन्स की संख्या रिटर्न करता है।

निम्नांकित उदाहरण में StringTokenizer का प्रयोग समझाया गया हैः

import java.util.*;
class Demo
{
  public static void main(String arr[])
  {
	StringTokenizer st=new StringTokenizer("My name is Rahul");
	int c;                       
	c = st.countTokens();
	System.out.println("Total tokens: " + c); 

	while(st.hasMoreTokens() == true)
	{
		System.out.println(st.nextToken());
	}
	c = st.countTokens();
	System.out.println("Total tokens: " + c);
  }
}

Output:

Total tokens: 4
My
name
is
Rahul
Total tokens: 0

निम्नांकित उदाहरण में StringTokenizer को पास किए जाने वाली स्ट्रिंग में सेमीकाॅलन (;) भी दी गई तथा उसे सेमीकाॅलम से ही सेपरेट करवाया गया हैः

import java.util.*;
class Demo
{
	public static void main(String arr[])
	{
		StringTokenizer st=new StringTokenizer("My name; is Rahul", ";");
		int c;                       
		c = st.countTokens();
		System.out.println("Total tokens: " + c);

		while(st.hasMoreTokens() == true)
		{
			System.out.println(st.nextToken());
		}
		c = st.countTokens();
		System.out.println("Total tokens: " + c);
	}
}

Output:

Total tokens: 2
My name
 is Rahul
Total tokens: 0

निम्नांकित उदाहरण में StringTokenizer को पास किए जाने वाली स्ट्रिंग में सेमीकाॅलन (;) तथा (+) भी पास कराए गए हैंः

import java.util.*;
class Demo
{
	public static void main(String arr[])
	{
		StringTokenizer st=new StringTokenizer("My name; is+ Ra;hul", ";+");
		int c;                       
		c = st.countTokens();
		System.out.println("Total tokens: " + c);
		while(st.hasMoreTokens() == true)
		{
			System.out.println(st.nextToken());
		}
		c = st.countTokens();
		System.out.println("Total tokens: " + c);
	}
}

Output:

Total tokens: 4
My name
 is
 Ra
hul
Total tokens: 0
सुझाव / कमेंट