जावा की विशेषताएं

  • सुरक्षित (Secure): जावा में पॉइंटर्स का प्रयोग नहीं होता है, अर्थात् इससे मेमोरी की किसी लोकेशन को किसी अन्य प्रोग्राम द्वारा परिवर्तित नहीं किया जा सकता है। इसके अलावा जावा में कुछ एन्क्रिप्शन अल्गोरिथम भी होती हैं जो प्रोग्रामर द्वारा काम में ली जा सकती हैं। एप्लेट द्वारा भी यूजर की हार्ड डिस्क को एक्सेस नहीं किया जा सकता है. अतः हम कह सकते हैं हैं कि जावा में बनाये गए प्रोग्राम सुरक्षित होते हैं।
  • बाईट कोड (Byte Code): जावा में बनाए गए प्रत्येक प्रोग्राम को पहले कम्पाइल करके उसे बाईट कोड में परिवर्तित किया जाता है तथा बाद में इस बाईट कोड को इन्टरप्रेट कर मशीन कोड में परिवर्तित कर एग्ज़िक्यूट किया जाता है।
  • आसान (Simple): यदि हमें C तथा C++ की जानकारी है तो जावा में प्रोग्रामिंग करना बहुत आसान हो जाता है क्योंकि इसमें कन्ट्रोल स्ट्रक्चर्स आदि C तथा C++ की भांति ही होते हैं। इसके अलावा जावा में goto स्टेटमेंट तथा पाॅइंटर्स का प्रयोग भी नहीं होता, अतः जावा में प्रोग्रामिंग करना बहुत सरल हो जाता है।
  • आॅब्जेक्ट ओरिएन्टेड (Object Oriented): जावा एक पूर्ण आॅब्जेक्ट ओरिएन्टेड प्रोग्रामिंग भाषा है। जावा में सभी प्रोग्राम क्लास तथा आॅब्जेक्ट के रुप में होते हैं। जावा में क्लास के समूह को पैकेज कहते हैं जिन्हे हम अपने प्रोग्राम में इनहेरीटेन्स की सहायता से काम में ला सकते हैं।
  • सुदृढ़ (Robust): जावा एक सुदृढ़ प्रोग्रामिंग भाषा है। अर्थात् इसमें प्रोग्रामर द्वारा कोडिंग के समय की जाने वाली कई गलतियों को संभाला जा सकता है। उदाहरण के लिए इसमें कम्पाइल करते समय तथा रन करते समय डेटा टाईप आदि की जाँच हो जाती है। इसके साथ साथ इसमें त्रुटियों (एरर्स) को काफी आसानी से संभाला जा सकता है।
  • डिस्ट्रीब्यूटेड (Distributed): जावा में नेटवर्क एप्लीकेशन्स को बनाया जा सकता है, अतः यह एक डिस्ट्रीब्यूटेड प्रोग्रामिंग भाषा है। इसमें डेटा तथा प्रोग्राम दोनों को शेयर किया जा सकता है। जावा एप्लीकेशन्स के द्वारा हम दूर स्थित (रिमोट) आॅब्जेक्ट्स को भी प्रयोग में ला सकते हैं, इस कारण एक प्रोजेक्ट पर कई यूज़र एक साथ कार्य कर सकते हैं।
  • मल्टीथ्रेडेड (Multithreaded): एक साथ कई प्रोग्रामों को कार्यान्वित करना मल्टीटास्किंग कहलाता है, वहीं किसी एक प्रोग्राम के विभिन्न भागों को साथ-साथ कार्यान्वित करना मल्टीथ्रेडिंग कहलाता है। जावा में हम मल्टीथ्रेडेड प्रोग्राम बना सकते हैं। उदाहरण के लिए जावा में हम एक ऐसा प्रोग्राम बना सकते हैं जिसमें किसी आॅडियो क्लिप को सुनने के साथ साथ कोई अन्य कार्य भी कर सकते हैं।
सुझाव / कमेंट