एप्लेट (Applets)

जावा में हम इन्टरनेट प्रोग्रामिंग कर सकते हैं। इन्टरनेट प्रोग्रामिंग के उदेश्य से बनाए गए प्रोग्राम को एप्लेट कहते हैं। यह सभी एप्लेट, Applet क्लास की चाईल्ड क्लास होते हैं। यह Applet क्लास java.applet में होती है तथा सभी एप्लेट एक विण्डो में रन कराए जाते हैं। विण्डो को सपोर्ट करने वाली क्लास java.awt पैकेज में होती हैं। अतः जावा में एप्लेट बनाने के लिए हमें अपने प्रोग्राम में java.applet तथा java.awt (abstract window toolkit) पैकेज को इम्पोर्ट करना आवश्यक होता है। इन पैकेजों में कुछ ऐसी क्लासें होती हैं जिनके मैथड्स की सहायता से हम प्रोग्राम में ग्राफिक्स का भी प्रयोग कर सकते हैं।

एप्लेट जावा के वे छोटे प्रोग्राम होते हैं जो इन्टरनेट प्रोग्रामिंग में काम में लिए जाते हैं। यह एप्लेट एक कम्प्यूटर से दूसरे कम्प्यूटर पर भेजे जा सकते हैं, तथा फिर इन्हे किसी भी वेब ब्राउज़र या एप्लेट व्यूअर द्वारा रन कराया जा सकता है।

एक एप्लेट किसी एप्लीकेषन प्रोग्राम की तरह कई कार्य कर सकता है। जैसे गणितिय गणनाएं करना, ग्राफिक्स प्रदर्शित करना, साउंड का प्रयोग करना, यूज़र से इनपुट लेना आदि।

लोकल तथा रिमोट एप्लेट

हम एप्लेट को दो तरीकों से वेब पेज पर प्रदर्शित कर सकते हैं। पहला तरीका यह कि हम कोई एप्लेट बनाये तथा उसे वेब पेज पर जोड़ दें, तथा दूसरा तरीका यह कि हम किसी एप्लेट को किसी रिमोट कम्प्यूटर से डाउनलोड करके उसे वेब पेज पर जोड़ दें।

एक एप्लेट जो कि लोकल कम्प्यूटर पर बनाया जाता है तथा लोकल कम्प्यूटर पर ही स्टोर रहता है उसे लोकल एप्लेट कहते हैं। इस प्रकार के एप्लेट को रन करने के लिए इन्टरनेट कनेक्शन की आवष्यकता नहीं होती क्योंकि वह उसी कम्प्यूटर पर होता है जहाँ उसे रन किया जाता है।

एक रिमोट एप्लेट वह होता है जो किसी दूर स्थित कम्प्यूटर पर होता है। इस प्रकार के एप्लेट को रन करने के लिए इन्टरनेट कनेक्शन की आवष्यकता होती है।

एप्लेट तथा स्टेण्ड अलोन एप्लीकेषन में अन्तर

एप्लेट तथा ‘जावा स्टेण्ड अलोन एप्लीकेषन‘ दोनों ही जावा प्रोग्राम होते हैं, लेकिन फिर भी दोनों में अन्तर होता है।

  • एप्लेट में main( ) मैथड का प्रयोग नहीं किया जाता।
  • एप्लेट, स्टैण्ड अलोन एप्लीकेषन की तरह स्वतंत्र रुप से रन नहीं किए जा सकते हैं। इन्हें रन करने के लिए किसी वेब ब्राउज़र जैसे इंटरनेट एक्सप्लोरर की आवष्यकता होती है।
  • एप्लेट लोकल कम्प्यूटर में किसी फाइल को रीड या राइट नहीं कर सकते।
  • एप्लेट किसी अन्य सर्वर से संपर्क स्थापित नहीं कर सकते।
  • एप्लेट, लोकल कम्प्यूटर में उपस्थित अन्य प्रोग्राम को रन नहीं कर सकते है।
सुझाव / कमेंट